सोमवार, 4 मई 2015

दहेज़ कोई समस्या नहीँ?

         मानवता के जगत में दहेज कोई समस्या नहीं हैं वरन एक मानवीय विकार है . आज के भौतिकवादी नजरिया व जातिवाद के कारण दहेज एक विकार बना हुआ हैं . हम तो यही कहेंगे कि "शादी करना" आजकल अवैध है .आजकल रिश्ता तय होने वक्त नजरिया भौतिकवादी ही होता है न कि मानवीय ? मानवीय मूल्यों व क़ानूनी नजर में हमारे नजर में हमारे बेटी बेटियों के माफिक अनेक लड़का लड़कियां होते हैं लेकिन हम उन्हें अपने बेटी बेटियों के योग्य नहीं मानते क्योकि वे दूसरी जाति के या हमसे कम भौतिक स्तर के होते हैँ.यहाँ पर हम अमानवीय व असंवैधानिक ही होते हैं.सरकारों को इस पर ध्यान देना चाहिए.शादी में खर्च पर टेक्स व शादी वक्त एजिस्ट्रेशन और दहेज अदेय प्रमाण पत्र अनिवार्य किया जाना चाहिए .इससे दहेज़ प्रकरण की समस्याएं कम होगी .

  अशोक बिंदु

अ.ब.व.इंटर कालेज

कटरा,

शाहजाहनपुर,उप्र

Sent via Micromax

कोई टिप्पणी नहीं: